gurjar

gurjar

जयपुर। गुर्जर सहित पांच जातियों को ओबीसी के साथ अब मोस्ट बैकवर्ड क्लास एमबीसी में अलग से एक फीसदी आरक्षण मिलेगा. इस सबंध में कैबिनेट ने सर्कूलेशन के जरिए मंजूरी दे दी गई है. कैबिनेट की मंजूरी के बाद अब कभी भी नोटिफिकेशन जारी हो सकता है.

गुर्जर सहित पांच जातियों को ओबीसी के साथ अलग से एक फीसदी आरक्षण देने से अब प्रदेश में कुल अरक्षण 50 फीसदी हो गया है. ध्यान रहे सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के मुताबिक 50 फीसदी से ज्यादा आरक्षण नहीं दिया जा सकता.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पिछले साल राजस्थान हाई कोर्ट ने गुर्जरों को पांच प्रतिशत आरक्षण देने के सरकार के फैसले को रद्द कर दिया था क्योंकि इससे कुल आरक्षण की सीमा 50 प्रतिशत से अधिक हो गई थी.

हालांकि वसुंधरा सरकार के इस निर्णय से गुर्जर नेताओं में नाराजगी है. जानकार सरकार के इस निर्णय को कुछ दिनों में होने वाले अलवर व अजमेर में लोकसभा उपचुनाव से जोड़कर ​देख रहे है.

दरअसल, अजमेर लोकसभा सीट गुर्जर बहुल मानी जाती है. जबकि अलवर लोकसभा सीट में भी गुर्जर मतदाता भाजपा के लिए मुश्किल खड़ी कर सकते है.

Loading...