राजस्थान की राजधानी जयपुर में एक मुस्लिम मजदूर की बेदर्दी से पीट-पीट कर हत्या कर देने का मामला सामने आया है. मृतक उत्तर प्रदेश के कानपुर का रहने वाला था और जयपुर में विश्वकर्मा इंडस्ट्रियल एरिया में मजदूरी करता था.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, मोहम्मद फैजल सिद्दीकी नाम के इस मजदुर पर एक छोटी बच्ची छेड़ने का आरोप लगाकर लोगों ने पीटना शुरू कर दिया. जिसके चलते बुधवार को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. इस घटना में मृतक का भाई भी गंभीर रूप से घायल हुआ है.

हालांकि बच्ची के पिता असलम अंसारी ने मृतक के उपर लगे सभी आरोपों को खारिज किया है. उनका कहना है कि मृतक अक्सर मेरी बच्ची के साथ रहता था, हमने कभी उसके द्वारा किसी आपत्तिजनक व्यवहार को नहीं देखा, अगर कुछ भी गलत होता तो मेरी बच्ची मुझे बता चुकी होती. मृतक के औपर मेरी बच्ची से छेड़खानी करने का आरोप गलत है.”

अंसारी के अनुसार वह और सिद्दीकी एक चप्पल बनाने वाले ठेकेदारों के लिए काम करते थे. वह (सिद्दीकी) अक्सर उनकी ढाई साल की बच्ची को घुमाने के लिए ले जाता था. अंसारी ने बताया कि उस सुबह भी वह पास की दुकान में बच्ची को साथ ले गया था.

कुछ ही देर बाद उसे पता चला कि सिद्दीकी को उसकी बच्ची से छेडछाड के आरोप में पीट रही है. अंसारी ने बताया- ”मैं तुरंत वहां भागा और देखा कि भीड़ सिद्दीकी को एक बिजली के खंभे से बांधकर पीट रही थी. मैंने अपनी बच्ची को लिया और पुलिस को बुलाया, जिसने सिद्दीकी को छुड़ाया। वह बुरी तरह घायल हो गया था.

पुलिस ने इस मामले में निशांत मोदी और महेंद्र नाम के युवक को गिरफ्तार किया है. साथ ही पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 308 (दंडनीय हत्याकांड करने का प्रयास) के तहत मामला दर्ज किया है.  विश्वकर्मा पुलिस थाने के सब-इंस्पेक्टर मुकुट बिहारी ने बताया कि ”हमने दो लोगों को इस केस के संबंध में दबोचा है- निशांत मोदी और महेंद्र. महेंद्र का पूर्व में भी आपराधिक रिकॉर्ड रहा है.”

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?