bhan

प्रतापगढ़: मुहर्रम के मौके पर बंदर की पुण्यतिथि मनाने पर अड़े पूर्व मंत्री राजा भैया के पिता उदय प्रताप सिंह को पुलिस ने नजरबंद किया हुआ है। वे हनुमान जी के मंदिर पर सुंदरकांड और भंडारा कराने की जिद्द पर अड़े हुए थे। इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है।

जानकारी के अनुसार, महल के आसपास और पूरे कुंडा में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। कुंडा को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। मामले में प्रतापगढ़ के जिलाधिकारी शंभू कुमार ने कहा, ‘पर्व-त्योहार के मामले में हमने उन्हीं कार्यक्रमों की अनुमति दी है, जो विगत-वर्षों में मनाए जाते रहे हैं। उनके अलावा जो अतिरिक्त कार्यक्रम हैं, उनपर रोक लगी हुई है।

उन्होने बताया, कुंडा में विगत वर्षों में यह समस्या हुई कि हनुमान मंदिर पर भंडारा करने की कोशिश की गई, जिसे पिछले साल भी रोकी गई और इस बार भी रोक दिया गया। कोई भी कानून उल्लंघन ना कर पाए, पर्व-त्योहार में खलल न डाल पाए इसलिए पुलिस तैनात की गई है। हम लोग नजर बनाए हुए हैं, जिससे शांति व्यवस्था कायम रहे।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कुंडा में 2 सीओ, 2 एएसपी,10 थानेदार,75 सब-इंस्पेक्टर ,200 कांस्टेबल, 4 बटालियन पीएसी समेत भारी पुलिस बल तैनात है। इसके साथ ही इलाके में धारा 144 लागू की गई है। उदय सिंह ने कहा कि पूजा-पाठ संविधान का मौलिक अधिकार है। अगर योगी सरकार धर्म विरोधी कार्य करेगी तो हिंदू वोटों का नुकसान होगा।

उन्होंने कहा कि बंदर की पुण्यतिथि पर यहां भंडारा और पूजा-पाठ का आयोजन किया जाता है। वर्षों पुरानी परंपरा के तहत इस भंडारे की शुरुआत राजा भैया के दादा बजरंग बहादुर सिंह ने की थी। 1945 से  इस भंडारे की शुरुआत हुई थी। अब इसके बाद भदरी नरेश महाराज उदय सिंह इस परंपरा को कई वर्षों से निभा रहे हैं।

स्थानीय लोगों ने बताया कि मुहर्रम के दिन एक बंदर की यहां पर मौत हुई थी। इसलिए उस स्थान पर मंदिर बना कर भंडारा किया जाता है।

Loading...