भोपाल: राज्य में महिलाओं के खिलाफ लगातार बढ़ रह अपराधों से निपटने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अहम कानूनों में संशोधन को मंजूरी दे दी है.

इसके साथ ही बलात्कार के गंभीर मामले में ‘सजा-ए-मौत’ को लेकर भी कानून बनाया जा रहा है. अब राज्य में 12 साल तक की लड़की से दुष्कर्म और सामूहिक गैंगरेप के सभी मामले में फांसी की सजा होगी.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को सभी पहलुओं पर चर्चा के बाद दंड विधि (मप्र संशोधन विधेयक) के अहम संशोधनों को मंजूरी दे दी. मुख्यमंत्री ने कहा कि दुष्कर्म या सामूहिक दुष्कर्म के मामलों में फांसी की सजा का प्रावधान जरूरी है.

इसके साथ ही छेड़छाड़ की बढ़ती घटनाओं को रोकने के लिए आजीवन सजा 14 साल को बढ़ाकर पूरी जिंदगी कर दिया गया है. साथ ही धारा 354 ए, 354बी, 354सी, 354डी में जमानत देने से पहले अदालत लोक अभियोजक का पक्ष जरूर सुना जाएगा.

इसके अलावा सार्वजनिक स्थानों पर महिला की बेइज्जती करने, छेड़खानी, पीछा करने, फब्तियां कसने व अभद्र इशारा करने जैसे मामलों में भी सजा सख्त होगी.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें