pune

आरक्षण की मांग को लेकर दलितों और मराठा समुदाय के लोग आपस में भीड़ गए. दोनों समुदाय के इस संघर्ष में कई लोगों के घायल होने की खबर है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, SC/ST एक्ट को बदलने की मांग को लेकर मराठा समुदाय ने पुणें के लोहेगांव क्षेत्र में  पुलिस स्टेशन तक मार्च निकाला था. इस दौरान दलित समुदाय के लोगों ने विरोध किया और ये विरोध संघर्ष में तब्दील हो गया. हालांकि पुलिस ने स्थिति को संभाल लिया. फिर भी इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस मार्च के आयोजकों का दावा है कि इस मार्च में 30 लाख लोग शामिल हुए जबकि पुलिस का कहना है कि आठ से दस लाख लोग थे जिनमें ज्यादातर ग्रामीण इलाकों से थे.

गौरतलब रहें कि आरक्षण की मांग को लेकर पहले गुजरात में पटेलों ने, फिर हरियाणा में जाटों ने हिंसक प्रदर्शन किया था. ऐसी ही स्थिति अब फिर से महाराष्ट्र में बनी हुई हैं.

Loading...