khadiya

khadiya

देश भर में ट्रिपल तलाक बिल का मुस्लिम महिलायें जमकर विरोध कर रही है. लाखों की तादात में सड़कों पर उतरकर महिलाए शरीअत की और से दिए गए अपने हक़ के लिए आवाज बुलंद कर रही है. जिन्हें मोदी सरकार दबाने की कोशिश कर रही है.

बिहार के खगड़िया में तीन तलाक बिल के विरोध में सोमवार को मुस्लिम महिलाओं ने विशाल मौन जुलूस निकाला. जुलूस में जिला मुख्यालय समेत विभिन्न गांवों से हजारों की संख्या में महिलाएं शामिल हुईं. जुलूस में शामिल महिलाएं हाथों में तख्तियां और बैनर लिए हुई थीं, जिसमें तीन तलाक बिल वापस लो, हम कानूने शरीअत के पाबंद हैं, इस्लामी शरिअत हमारा गर्व, इस्लामी शरियत हमारा एजाज, हम कानून के पाबंद नारे लिखे हुए थे.

बिहार : खगड़िया में तीन तलाक बिल के विरोध में सड़क पर उतरी महिलाएं

इसके अलावा मुंगेर जिले में भी तीन तलाक बिल के विरोध में मुस्लिम समाज की महिलाओं का सैलाब मुंगेर की सड़क पर उतर आया. महिलाओं ने महारैली के माध्यम से केंद्र सरकार संसद में पेश किये जा रहे तीन तलाक बिल का जमकर विरोध किया था. महिलाओं ने बिल वापस लो, तीन तलाक बिल हमें मंजूर नहीं, जैसे नारों के साथ लेकर सड़कों पर प्रदर्शन किया. उसके बाद महिलाओं ने मुंगेर के जिला पदाधिकारी को इस संदर्भ में एक ज्ञापन सौंपा. जिसे राष्ट्रपति को भेजने की मांग की.

तीन तलाक के विरोध अल्पसंख्यक महिलाएं सड़क पर

वहीँ औरंगाबाद में भी सोमवार को तहफ्फूज्जे शरीयत के बैनर तले मुस्लिम महिलाओं ने शहर में तीन तलाक बिल के विरोध में शांति जुलूस निकाला. मुस्लिम महिलाओं ने इस बिल को इस्लाम धर्म के खिलाफ बताया. महिलाओं ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन तलाक बिल लाकर हमारे धर्म के खिलाफ काम किया है. हालांकि इस दौरान ज्ञापन लेने के लिए समाहरणालय में कोई नहीं था. जिसके बाद संस्कृत उच्च विद्यालय पहुंच कर महिलाओं ने और यहां कार्यक्रम में शामिल सांसद सुशील कुमार को ज्ञापन सौंपा.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें