Friday, December 3, 2021

बरेली में हुआ फ्रांस के खिलाफ बड़ा प्रदर्शन, सड़कों पर उतरे हजारों लोग

- Advertisement -

बरेली। पैगम्बरे इस्लाम की शान में गुस्ताखी के विरोध में बरेली की सड़कों पर हजारों की तादाद में मुसलमानो ने प्रदर्शन किया। फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ अपना गुस्सा जताने के लिए इन लोगों ने कोरोना की भी परवाह नहीं की।

इस दौरान भीड़ ने फ्रांस का झंडा भी जलाया। झंडा जलाने रोकने पर भीड़ की पुलिस से नोकझोंक तक हुई। पुलिस ने भीड़ को फ्रांस के झंडे को जलाने से रोकने की कोशिश भी की। हालांकि बाद में सिटी मजिस्ट्रेट मदन कुमार वहां पहुंचे। उन्हें ज्ञापन देकर प्रदर्शनकारी लौट गए।

जमात रजा-ए-मुस्तफा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सलमान मिया ने बताया कि फ्रांस में नबी की शान में गुस्ताखी की गई। इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। उन्होंने फ्रास के राष्ट्रपति की भी आलोचना की। मांग रखी कि हिदुस्तान की सरकार को फ्रांस के दूतावास से अपने लोगों को वापस बुलाना चाहिए।

जमात के प्रवक्ता समरान खान ने बताया कि मुसलमानों से अपील की गई कि वे फ्रास की बनी वस्तुओं का बायकॉट करें। दूसरी ओर कोतवाली इंस्पेक्टर गीतेश कपिल ने बताया कि अयूब खां चौराहा पर प्रदर्शन के दौरान झंडे नहीं जलाए गए। प्रदर्शनकारियों से दो झंडे जब्त किए गए हैं।

मुंबई में भी सड़कों पर उतरे मुसलमान

मुंबई में रजा अकादमी के नेतृत्व में सैकड़ों मुसलमानों ने फ्रांस के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। मुंबई के मुस्लिम बहुल भिंडी बाजार इलाके में सड़कों पर फ्रांस के राष्ट्रपति इमैन्युअल मैक्रां के फोटो वाले पोस्टर्स चिपका दिए गए। लोग उन पोस्टर्स के ऊपर से चलते हुए गुजर रहे थे।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles