एबीवीपी के डर से प्रिंसिपल ने पुलिस को दर्ज कराया अपना बयान

11:55 am Published by:-Hindi News

केरल में गवर्नमेंट ब्रेनन कॉलेज के प्रिंसिपल को पुलिस के समक्ष अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् की वजह से अपना बयान दर्ज कराना पड़ा है। प्रिंसिपल का कहना है कि उसके बयान को ‘मरने से पूर्व दिए गए बयान’ के आधार पर दर्ज किया जाए।

कन्नौर जिले में स्थित गवर्नमेंट ब्रेनन कॉलेज के प्रिंसिपल के. फाल्गुनन ने कहा उन्होंने बुधवार को खुद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े छात्र संगठन एबीवीपी का फ्लैगपोल हटाया था।

कई मलयालम चैनलों को वीडियो ब्रॉडकास्ट में प्रिंसिपल ने कहा, ‘उन्होंने धमकी दी कि मेरे साथ कुछ बुरा हो सकता है ऐसे में मुझे सजग रहने की जरूरत है। मैं पुलिस से आग्रह करता हूं कि इसे मेरा मरने से पहले दिया गया बयान माना जाए।’

यह विवाद तिरुवनंतपुरम के यूनिवर्सिटी कॉलेज में एक छात्र को चाकू घोंपने की घटना के कुछ दिन बाद सामने आया है। इस मामले में पुलिस ने वाम दल की छात्र इकाई स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) के कुछ कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया था।

तिरुवनंतपुरम यूनिवर्सिटी कॉलेज को केरल के प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थानों में से एक माना जाता है। प्रिंसिपल फाल्गुनन ने पुलिस से कहा कि एबीवीपी कार्यकर्ता एसएफआई के दबदबे वाले कॉलेज में अपने साथी कार्यकर्ता की बरसी के मौके पर फ्लैगमास्ट की अनुमति चाहते थे।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें