yoo12

बीजेपी के पहले मुख्य्मंत्री के रूप में ताजमहल को देखने पहुंचे उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ताजमहल को वास्तुकला का एक अद्भुत नमूना करार देते हुए कहा कि हमें इसका संरक्षण करना होगा.

उन्होंने ताज का दीदार करने के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि  “ताजमहल कब बना, क्यों बना और कैसे बना हम उसकी तह में न जाएं, बल्कि यह ध्यान रखना होगा कि ताजमहल भारतीय मजदूरों के खून-पसीने से बना है. यह वास्तुकला का एक अद्भुत नमूना है.”

सीएम ने कहा, आगरा देश का एक ऐसा शहर है जहां वर्ल्ड हेरिटेज की पांच प्रसिद्ध इमारतें हैं. आगरा में प्रतिदिन 50 हजार देशी-विदेशी पर्यटक आते हैं. आगरा को विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों के लिए आगरा पिकनिक स्पॉट था लेकिन हमारे लिए यह साधनास्थल होगा.

उन्होंने विपक्ष को निहाने पर लेते हुए कहा कि ‘आगरा आने पर लोग आपत्ति कर रहे थे कि आखिर आगरा क्यों जा रहे हैं. हम काशी जाते हैं तो उन्हें बुरा लगता है, अयोध्या जाते हैं तो भी उन्हें बुरा लगता है, आगरा आएं हैं, तब भी बुरा लग रहा है कि हम यहां क्यों आए हैं.’

सीएम ने कहा ‘प्रतिदिन 40 से 50 हजार पर्यटक आगरा आते हैं. अगर हम उन्हें सुरक्षा प्रदान करें तो यह संख्या 2.5 से 3 लाख भी हो सकती है.’ इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने शाहजहां पार्क के मरम्मत कार्य का शिलान्यास किया. इसके साथ ही वर्ल्ड बैंक की मदद से आगरा फोर्ट से लेकर ताजमहल तक पैदल पारपथ बनाने का काम शुरू किया जाएगा.

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano