devas

devas

मध्य प्रदेश के देवास में प्रेस से नए नोट चुराते हुए प्रेस का अधिकारी गिरफ्तार हुआ है. पुलिस ने अधिकारी के पास 90 लाख रुपए के नोट बरामद किये है.

दरअसल, बैंक नोट प्रेस प्रबंधन ने पुलिस को छपे हुए नए नोटों के चोरी होने की सूचना दी थी. जिसके बाद पुलिस ने जांच करते हुए वरिष्ठ पर्यवेक्षक पद पर तैनात मनोहर वर्मा को गिफ्तार किया.

मनोहर वर्मा के ऑफिस के चेंबर की तलाशी लेने पर 26 लाख 9 हजार रुपए बरामद हुए है तो वहीँ घर और बैंक लाकर्स से कुल मिलकर 90 लाख रुपए की बरामदगी हुई है. जानकारी के मुताबिक मनोहर 1984 में एलडीसी के पद पर पदस्थ हुआ था.

बता दें कि केंद्र सरकार के उपक्रम बैंक नोट प्रेस में दो सौ और पांच सौ रुपए मूल्य के नोट छापे जाते हैं..इस संस्थान में गोपनीयता और सुरक्षा की दृष्टि से काफी सतर्कता भी बरती जाती है.

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि वर्तमान में देश में चार प्रेस हैं, जहां नोटों की छपाई होती है. इनमें से देवास बैंक नोट प्रेस और नासिक की प्रेस भारत सरकार के उपक्रम सिक्योरिटी प्रिटिंग एंड मिंटिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एसपीएमसीआईएल) का हिस्सा है.

जबकि मैसूर और सालबोनी (प. बंगाल) रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड (बीआरबीएनएमपीएल) के अधीन है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?