kasganj violence

यूपी के कासगंज जिले में गणतन्त्र दिवस के अवसर पर तिरंगा यात्रा के बहाने सांप्रदायिक उन्माद को अंजाम देने के बाद अब एक बाद फिर से 15 अगस्त (स्वतंत्रता दिवस) पर ‘तिरंगा यात्रा’ निकालने की तैयारी की जा रही है। इसके चलते खुफिया एजेंसियों को अलर्ट जारी कर दिया गया है।

एसपी कासगंज शिवहरि मीणा ने बताया कि 15 अगस्त को दो पक्षों की तरफ से जिला प्रशासन से तिरंगा यात्रा निकालने की अनुमित मांगी गई थी। पुलिस ने प्रशासन से इजाजत नहीं देने की सिफारिश की गई है। जिससे की शहर में पहले जैसी कोई घटना न हो।

kasg

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब है कि विश्व हिन्दू परिषद और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने गणतन्त्र दिवस के अवसर पर तिरंगा यात्रा के बहाने अल्पसंखयक समुदाय के इलाकों में जमकर उत्पात मचाया था। जिसके बाद 117 लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

kasganj 4

इस हिंसा मामले में दर्ज 5 एफआईआर के तहत 36 लोगों को गिरफ्तार किया गया था, जबकि 81 लोगों को धारा-144 के उल्लंघन के आरोप में अरेस्ट किया गया था। कासगंज हिंसा के दौरान शहर में आगजनी की 7 एफआईआर भी दर्ज की गई थी।