बरेली में कांवड़ यात्रा को लेकर तनाव, पुलिस-PAC मौके पर तैनात

12:05 pm Published by:-Hindi News
277711 pac and up police

उत्तर प्रदेश के बरेली में कांवड़ यात्रा को लेकर दो समुदायों के बीच विवाद हो गया है। जिसके बाद 750 लोगों के खिलाफ बलवा फैलाने और धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में केस दर्ज किया है।

जानकारी के अनुसार, 19 अगस्त को बिथरी चैनपुर के खजुरिया ब्रम्हनान गांव में करीब 50 कांवड़ियो का जत्था बदायूं के कछला घाट जल लेने जा रहा था। बताया जा रहा है कि ये सभी मुस्लिम बाहुल्य गांव उमरिया होते हुए कछला जल लेने जाते लेकिन, उमरिया गांव के लोगों ने कावड़ यात्रा का विरोध कर दिया और सड़क पर सैकड़ों लोग आकर जमा हो गए, जिसके बाद डीएम ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी।

एसपी सिटी ने बताया कि बरेली के बिथरी चैनपुर थाना क्षेत्र में कांवड़ यात्रा निकालने पर दो समुदाय आमने-सामने आ गए। यहां खजुरिया गांव के बाहर कुछ लोगों ने हूटिंग की और माहौल खराब करने की कोशिश की। इसपर पुलिस ने कानूनी कार्रवाई करते हुए लाठी फटकार कर दोनों पक्षों को किसी तरह से शांत कराया। एसपी के मुताबिक मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

न्यूज 18 की खबर के मुताबिक विधायक राजेश मिश्रा ने कहा कि हर कीमत पर कांवड़ यात्रा वहीं से निकलेगी। विधायक के समर्थन के बाद लोग धरने पर बैठ गए जिससे पूरे गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया। गुरुवार (23 अगस्त) को विश्व हिंदू परिषद के जिला अध्यक्ष पवन अरोड़ा दर्जनों कार्यकर्ताओं के साथ खजुरिया गांव पहुंच गए और वहां धरना शुरू कर दिया. इस वजह से दोनों समुदाय के लोग एक बार फिर सड़कों पर आ गए।

इस मामले में डीएम वीरेंद्र सिंह का कहना है कि खजुरिया, उमरिया और नकटिया में तनाव को देखते हुए पुलिस पीएसी और मजिस्ट्रेट को तैनात कर गया है. उनका कहना है कि आज कुछ लोग गांव में ग्रामीणों को समझाने के लिए पहुचे थे तभी कुछ अफवाह उड़ गई जिस वजह से लोग सड़कों पर आ गए है। हिंसा न भड़के इसलिए यहां मीडिया को भी प्रतिबंधित कर दिया है।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें