kis

श्रीगंगानगर: मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा का विरोध कर रहे किसानों पर पुलिस ने लाठियां भांजी और आंसू गैस के गोले दागे। इतना ही नहीं पुलिस ने प्‍लास्‍टिक की गोलियां भी चलाईं। बताया जा रहा है कि इस दौरान कई किसान घायल हुए है। पुलिस ने धरना दे रहे कई किसानों को गिरफ्तार भी किया है।

बता दें कि सीएम  वसुंधरा राजे के श्रीगंगानगर जिले में पहुंचने पर जिले के किसान अपनी मांगों को लेकर सीसी हैड पर बैठे थे। किसान फिरोजपुर फीडर के निर्माण तथा नरमा-कपास को समर्थन मूल्य पर खरीद सहित मांगों को लेकर बैठे रहे।  इस बीच धरने पर बैठे इन किसानों से समझाइश के लिए पुलिस तथा प्रशासन ने प्रयास किए. लेकिन किसान मानने को तैयार नहीं हुए। आखिरकार पुलिस ने किसानों को वहां से हटाने के लिए बल प्रयोग किया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पुलिस ने पहले तो किसानों को वहां से हटने के लिए बोला लेकिन जब वह नहीं माने तो पुलिस ने उनपर लाठी चला दी। इस दौरान आंसू गैस के गोले छोड़े गए और प्लास्टिक की गोलियां दागी गईं। पुलिस की इस कार्रवाई में कई किसानों के घायल होने की सूचना है। पुलिस ने इस मामले में कई किसानों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने गंगानगर किसान समिति के संयोजक रणजीत सिंह राजू और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य पृथीपाल सिंह संधू सहित नौ किसानों को गिरफ्तार किया है। संधू को लगी चोटें गंभीर होने पर उन्हें श्रीगंगानगर के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। किसानों ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि वे अपने हक की मांग कर रहे थे, लेकिन उन्हें लाठियां मिली।

Loading...