Thursday, January 20, 2022

इटावा: CAA के विरोध में प्रदर्शन कर रही महिलाओं और बच्चों को पुलिस ने पीटा

- Advertisement -

दिल्ली के शाहीन बाग की तर्ज पर उत्तर प्रदेश के प्रयागराज, अलीगढ़ व लखनऊ में नागरिकता कानून के खिलाफ महिलाओं के प्रदर्शन जारी है। इन प्रदर्शनों को रोकने के लिए राज्य सरकार ने धारा 144 भी लागू की हुई है। पुलिस इन को हटाने के लिए रोज नए-नए जतन कर रही है।

इसी क्रम में पुलिस ने इटावा में प्रदर्शनकारी महिलाओं पर लाठीचार्ज किया। महिलाओं का कहना कि जब सरकार के मंत्री इस कानून के पक्ष में भीड़ एकत्रित कर जुलूस निकाल कर धारा 144 का उलंघन कर सकते हैं तो हम शांतिपूर्ण तरीके से इसका विरोध क्यों नहीं कर सकते हैं।

प्रोटेस्ट कर रही महिलाओं ने कहा, ‘हमें जबरदस्ती उठाया गया। भद्दी-भद्दी गालियां दी गईं, पीटा गया। लोगों के साथ बदसलूकी की गई। हमलोग शन्ति पूर्वक प्रोटेस्ट कर रहे थे। क्या अब हमें ये अधिकार भी नहीं है। बुजुर्ग और बच्चों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा।’

इस प्रदर्शन और पुलिस की कार्रवाई के कई मोबाइल फ़ोन के वीडियो फ़ुटेज सामने आए हैं। एक वीडियो में दिख रहा है कि पुलिस लोगों को वहाँ से भगाने के लिए लाठीचार्ज कर रही है। एक अन्य वीडियो में दिख रहा है कि सड़क किनारे वाली दुकानों में भी पुलिसकर्मी घुसे और ज़बरदस्ती दुकानों को बंद करा दिया। एक पुलिसकर्मी रेहड़ी वालों को पीटता दिख रहा है।

‘एनडीटीवी’ की रिपोर्ट के अनुसार, एक वीडियो में एक वरिष्ठ पुलिसकर्मी प्रदर्शन करने वालों को गाली देते दिख रहे हैं। पुलिस ने अपनी कार्रवाई का यह कहते हुए बचाव किया है कि पहले प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया था। इटावा पुलिस ने ट्वीट कर कहा है कि प्रदर्शन स्थल पर पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं और प्रदर्शन करने वालों पर नज़र रखी जा रही है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles