स्वतंत्रता दिवस के मौके पर यूपी के मदरसों में वीडियोग्राफी के आदेश के बाद अब योगी सरकार ने मदरसों को लेकर एक और तुग़लकी फरमान जारी किया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी के आगामी दौरे पर होने वाले संवाद कार्यक्रम में मुस्लिम महिलाओं की उपस्थिति के लिए हर मदरसे को 25-25 महिलाओं को भेजने का आदेश दिया है.

जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी विजय प्रताप यादव ने जिले के सभी अनुदानित तथा गैर अनुदानित मदरसों को हाल में भेजे गए पत्र में कहा है कि आगामी 22 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी का वाराणसी के डीएलडब्ल्यू प्रेक्षागृह में अल्पसंख्यक महिलाओं के साथ संवाद का कार्यक्रम है.

इस प्रेक्षागृह में 700 महिलाओं के बैठने की व्यवस्था की गई है. उस दिन अल्पसंख्यक महिलाओं को कार्यक्रम स्थल पर पहुंचाने का जिम्मा मदरसों को दिया जा रहा है.

इस बीच, टीचर्स एसोसिएशन मदारिस अरबिया उत्तर प्रदेश के महासचिव दीवान साहब जमां ने अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के इस खत में कही गई बातों का विरोध करते हुए इसे बेजा करार दिया है. उनका कहना है कि सरकार ने मदरसों को भाजपा कार्यकर्ताओं वाला काम सौंप दिया है. उन्होंने आदेश को वापस लेने की मांग की.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?