Friday, September 17, 2021

 

 

 

गुजरात दौरे पर पीएम मोदी करेंगे अमूल संयंत्र का उद्घाटन, वाइस चेयरमैन का बहिष्‍कार का ऐलान

- Advertisement -
- Advertisement -

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने गृहराज्य गुजरात के एक दिवसीय दौरे पर है। इस दौरान वे आणंद में अमूल के चॉकलेट संयंत्र समेत कई विकास कार्यक्रमों का उद्घाटन अथवा लोकार्पण करेंगे।

पीएम मोदी सबसे पहले आणंद के मोगर में लगभग 190 करोड़ रूपये की लागत से स्थापित 1000 टन प्रति माह की उत्पादन क्षमता वाले चॉकलेट संयंत्र का उद्घाटन करेंगे और कोलकाता में स्थापित होने वाले इसके पहले डेयरी संयंत्र का ऑनलाइन शिलान्यास भी करेंगे। हालांकि मोदी का विरोध भी होना शुरू हो गया है। भाजपा पर अमूल डेरी के कार्यक्रम को ‘हाईजैक’ करने का आरोप लगाते हुए कंपनी के वाइस-चेयरमैन राजेंद्रसिंह परमार ने कहा है कि वह इसका ‘बायकॉट’ करेंगे।

बोरसद विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक परमार ने कहा, ”मैं कार्यक्रम का बहिष्‍कार करूंगा।” जब उनसे वजह पूछी गई तो उन्‍होंने द इंडियन एक्‍सप्रेस से कहा, ”ऐसा लगता ही नहीं कि यह कार्यक्रम अमूल डेरी करवा रहा है। लगता है कि यह कोई राजनैतिक कार्यक्रम है जहां एक राजनैतिक दल (भाजपा) शो चला रही है। पहले भी, कई प्रधानमंत्री अमूल डेरी आए हैं, लेकिन एक राजनैतिक दल का झंडा कभी इस्‍तेमाल नहीं किया गया था। अमूल के प्रबंधन को कार्यक्रम के बारे में कुछ पता नहीं है और एक राजनैतिक पार्टी सब संभाल रही है।”

क्‍या परमार को कार्यक्रम में शामिल होने का न्‍योता दिया गया था? इस पर उन्‍होंने हामी भरी और कहा, ”बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर्स के कुछ और सदस्‍य भी कल (रविवार) के इवेंट का बायकॉट कर सकते हैं।” हालांकि परमार ने उन निदेशकों का नाम नहीं बताया।

पीएम मोदी किसानों की एक सभा को भी संबोधित करेंगे। दोपहर में वह कच्छ जिले के अंजार के सतापर गांव में भी एक सभा को संबोधित करेंगे। वह गुजरात राज्य पेट्रोनेट लिमिटेड की ओर से मुंद्रा पोर्ट और अंजार के बीच 375 करोड़ रूपये की लागत से स्थापित करीब 67 किमी लंबे गैस पाइपलाइन का भी उद्घाटन करेंगे।

इसके बाद वह राजकोट जायेंगे जहां चौधरी हाई स्कूल में एक जनसभा को संबोधित करेंगे और वहां राजकोट महानगरपालिका की ओर से 26 करोड़ की लागत से गांधी संग्रहालय में तब्दील किए गए महात्मा गांधी के पूर्व स्कूल अल्फ्रेड हाई स्कूल के नवीनीकृत स्वरूप का लोकार्पण भी करेंगे। निकटवर्ती पोरबंदर में जन्मे बापू ने इस स्कूल में सात साल तक पढ़ई की थी। इस स्कूल को पिछले साल बंद कर दिया गया था। अब इसे संग्रहालय में तब्दील कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles