बलात्कार के दोषी बाबा राम रहीम की सुनवाई के बाद हुई हिंसा पर हाईकोर्ट ने केंद्र को सख्त फटकार लगाई है, बीजेपी के तमाम नेताओं के बाद इस प्रकरण में पीएम मोदी का नाम भी आ गया है.

गौरतलब है की कोर्ट में केंद्र सरकार के वकील ने कहा था की शुक्रवार को हुई हिंसा राज्य का मामला है इस पर हाई कोर्ट के जज ने कहा की “मोदी देश के पीएम है सिर्फ बीजेपी के नही उनकी भी ज़िम्मेदारी बनती है. क्या हरियाणा भारत का हिस्सा नही है”.

इसके बाद हाईकोर्ट ने खट्टर सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा की वोटो की राजनीति करने के कारण उन्होंने राज्य को जलने दिया. 15 वर्ष पुराने रेप के मामले को लेकर बाबा रामरहीम को दोषी पाया गया है.

फैसला आने के बाद राम रहीम के समर्थकों ने काफी जगहों पर हिंसा की। जिसमें 30 से ज्यादा लोगों की जान चली गई थी। हिंसा के बाद हर कोई राम रहीम पर उंगली खड़ी कर रहा था।

इससे पहले राम रहीम के समर्थकों ने हरियाणा, पंचकुला में काफी हिंसा की। कई मीडिया वालों को भी पीटा गया उनकी गाड़ियों में आग लगा दी गई। पुलिस को भी कई जगहों से उस भीड़ ने पीछे धकेल दिया था। इसके अलावा दिल्ली और यूपी के लोनी में भी बस और ट्रेन जलाने के मामले सामने आए थे। लेकिन साफ नहीं था कि यह किसका काम है।
राम रहीम सिरसा से हाईकोर्ट तक 800 गाड़ियों का काफिला लेकर पहुंचे थे। उनके समर्थक सड़कों पर लाठी लेकर खड़े थे।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?