img 20171202 wa0036

img 20171202 wa0036

भावनगर(गुजरात) – पीएम मोदी ने बीते 29 नवम्बर को गुजरात के पालिताना मैं चुनावीसभा मैं “मानगढ़” हत्याकांड का ज़िक्र किया था जिस से भावनगर का राजपूत और पाटीदार समाज नाराज़ हो गया हैं।

दरसल 30 साल पहले गुजरात मैं भावनगर के पास “मानगढ़” मैं 1982 और 1984 दो बार राजपूत-पाटीदार समाज के बीच ख़ूनरेजी हुई थी जिस मैं दोनों कौमो के लोगों की जानें गई थी। इतने सालों बाद दोनो क़ौम के बीच की कड़वाहट दूर हो चुकी हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पीएम मोदी ने चुनावी लाभ लेने के लिए इस का ज़िक्र किया तो दोनो समाज ने शुक्रवार को भावनगर मैं इक प्रेस वार्तालाप का आयोजन किया। इस मैं गोहिलवाड के तमाम राजपूत समाज ने पीएम मोदी द्वारा “मानगढ़” पर की गई टिप्पणी पर नाराज़गी ज़ाहिर की।

माना जा रहा हैं कि पीएम मोदी की इस टिप्पणी से चुनाव मैं भाजपा को नुक़सान हो सकता हैं। गुजरात के चुनाव मैं जीत चाहे किसी की भी हो पर पहली बार देखा जा रहा हैं कि भाजपा से एक बाद एक समाज नाराज़ हो रहे हैं।

Loading...