छत्तीसगढ़ के धमतरी में होम आइसोलेशन में रखे गए एक युवक की आत्महत्या का मामला सामने आया है। युवक की की लाश पेड़ पर लटकी मिली। हालांकि मृतक में कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं था और न ही कोरोना से जुड़ा कोई लक्षण था।

धमतरी जिले के वनांचल सिहावा क्षेत्र के ग्राम टांगापानी के 35 वर्षीय गनपत मरकाम की सोमवार की सुबह बजरंग तालाब के किनारे पेड़ पर गमछा से लटकी लाश मिली। जनसम्पर्क विभाग ने बताया कि मृतक के पिता सगराम मरकाम ने थाने में जाकर इसकी सूचना दी। उन्होंने बताया कि मृतक तमिलनाडु में बोरगाड़ी में काम पर गया हुआ था और हाल ही में 20 मार्च को वापस लौटा। चूंकि दूसरे राज्य से लौटा था। इसलिए उसे स्वास्थ्य विभाग के अमले ने 22 मार्च को स्वास्थ्य जांच कर घर में रहने की सलाह दी थी।

जनसम्पर्क विभाग ने बताया कि गनमत की नियमित जांच सुबह 8 बजे के आस पास 29 मार्च तक की और उसे सर्दी, खांसी, बुखार के कोई लक्षण नहीं थे। पिता ने बताया कि मृतक की पत्नी का एक वर्ष पहले देहांत हो चुका है और उनका पुत्र साथ नहीं रहता। मृतक के भाई संपत ने बताया कि 30 मार्च की सुबह 7 बजे वह बजरंग तालाब के पास पेड़ पर गमछा से फांसी बनाकर आत्महत्या कर लिया।

पंचनामा में ग्रामीणों ने बताया है कि पत्नी की मृत्यु के बाद से वह काफी गुमसुम रहता था और शराब का सेवन भी करता था। 20 मार्च से शराबबंदी के बाद से और अधिक विचलित रहने लगा था। उसका घर पर किसी से लड़ाई झगड़ा नहीं हुआ था, वह गुमसुम ही रहता था।

अब तक जिले में आइसोलेशन में रखे जाने वालों की संख्या 1359 हो गई है। पिछले 24 घंटे में यह संख्या 1148 बढ़ी है। कल तक होम इसोलेसन में 1075 लोग थे। कुछ लोग अपने व्यक्तिगत साधनों से अन्य राज्यों से वापस लौटे हैं, इस वजह से संख्या बढ़ी है। क्यूरेन्टाईन सेंटर में 6 लोग हैं बाकी की अवधि समाप्त होने पर उन्हें घर पहुंचा दिया गया है ।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन