pankhuri

अलीगढ़- सरकार बदलने के बाद से लगातार बिगड़ रही सूबे की कानून व्यवस्था की ख़ामियों के ताज़ा उदाहरण देखने को मिला है. जहाँ पूर्व सपा प्रवक्ता पंखुरी पाठक पर हिंदीट्ववादी गुंडों ने ना सिर्फ हमला किया बल्कि गाड़ी क्षतिग्रत कर डाली. गौरतलब है की सोशल मीडिया पर अपनी एक पोस्ट में अलीगढ़ में हुए दो युवकों के एनकाउंटर पर ऊँगली उठा चुकी है, तथा इसी सप्ताह हुई विवेक तिवारी के एनकाउंटर के बाद से पुलिस के एनकाउंटर पर सवालियां निशान शुरू हो गए हैं.

इस हमले के तुरंत बाद सोशल मीडिया पर लाइव आयी पंखुड़ी पाठक ने बताया कि पुलिस की मौजूदगी में हमला हुआ। इस वारदात को उस समय अंजाम दिया गया, जब वे गाड़ी के अंदर मौजूद थीं। उनकी गाड़ी पर पथराव कर दिया गया। गाड़ी की चाबी भी गायब कर दी गई। पंखुडी पाठक ने बताया कि इस हमले में उनके साथी बुरी तरह जख्मी हो गये। कुछ साथियों ने वहां से भागने का प्रयास किया, तो बजरंग दल के कार्यकर्ता उनके पीछे दौड़े। उन साथियों का कुछ भी अता पता नहीं है। वे अपने घायल साथियों को लेकर अस्पताल पहुंच रही हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पुलिस पर नहीं भरोसा
पंखुड़ी पाठक ने बताया कि पुलिस पर भरोसा नहीं है। पुलिस की मौजूदगी में ये हमला हुआ है। यहां पर मरवाने का पूरा प्लान था। यदि थोड़ी देर भी वहां रुकते, तो मार दिया जाता। उन्होंने कहा कि यूपी के अलीगढ़ में इस तरह की गुंडागर्दी है, ये कभी सोचा नहीं था। पुलिस की मौजूदगी में ऐसा हुआ, इस बात को लेकर सबसे बड़ा संशय है। उन्होंने कहा कि पुलिस कार्यालय में जायें या न जायें, इस बात को लेकर भी टेंशन हैं। पंखुड़ी पाठक ने भाजपा और बजरंग दल पर इस हमले का आरोप लगाया है। भाजपा सरकार में किसी तरह की कानून व्यवस्था नहीं बची है। एक महिला के होते हुए हमला हुआ, ये कैसी कानून व्यवस्था है।

Loading...