Aatmjeet singh

रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर द्वारा पाकिस्तान को नरक बताने पर मशहूर पंजाबी नाटककार और निर्देशक आतमजीत सिंह ने गुरु नानक, जो कि सिख धर्म के संस्थापक हैं उनका जन्म ननकाना साहिब में हुआ था. बाबा फरीद, पंजाबी भाषा की पहलें महान कवि, उनका जन्म मुल्तान में हुआ था. कैसे पाकिस्तान मेरे और मेरे जैसे अन्य पंजाबियों के लिए नरक हो सकता है?

उन्होंने आगे कहा कि कहा कि पाकिस्तान, पर्रिकर या गोवा और महाराष्ट्र के कुछ लोगों के लिए नरक हो सकता है लेकिन मेरे लिए यह वह भूमि है, जहां सांस्कृतिक और धार्मिक मूल्यों की जड़ें बहुत गहरी हैं”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अमरजीत सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा, “मेरी माँ पेशावर से हैं और लाहौर में  मेरे पिता का जन्म हुआ. गुरु नानक, सिख धर्म के संस्थापक का जन्म ननकाना साहिब में हुआ था. बाबा फरीद, मेरी भाषा के पहली महान कवि का जन्म मुल्तान में हुआ था. संस्थापक गुरु नानक ननकाना साहिब में और पंजाबी भाषा के पहले कवि बाबा फरीद मुल्तान में पैदा हुए थे. जिस देश से हमें इतना कुछ मिला हो वह मेरे लिए या मेरे जैसे अन्य पंजाबियों के लिए नरक कैसे हो सकता है?

उन्होंने रक्षामंत्री पर्रिकर के बयान पर कहा ”आईएसआई, सैन्य शासकों और पाकिस्तान के नेताओं, जो अपने निहित स्वार्थों के लिए नफ़रत पैदा कर रहे हैं उनको कुछ भी कहने का मैं बुरा नहीं मानूंगा मैं आपकी ख़ुशी में शामिल हूँ लेकिन मुझ पर रहम कीजिये मेरे पूर्वजों के देश को नरक मत कहिये.

Loading...