Saturday, June 12, 2021

 

 

 

ओवैसी का सवाल: पीएम ने उन मुस्लिम सैनिकों का जिक्र क्यों नहीं किया जिन्होंने शिवाजी का साथ दिया था

- Advertisement -
- Advertisement -

owai

मुंबई: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मुंबई में शिवाजी मेमोरियल के भूमि पूजन के दौरान संबोधन में मुस्लिम सैनिकों के योगदान का जिक्र नहीं करने की आलोचना की हैं.

रविवार को नागापाडा इलाके में उन्होंने कहा, ‘हम एक मेमोरियल को बनाने पर 3.600 करोड़ से ज्यादा हो रहे खर्च का विरोध नहीं कर रहे. लेकिन जब पीएम शिवाजी की महानता के बारे में बात कर रहे थे, तो उन्होंने उन मुस्लिम सैनिकों का जिक्र क्यों नहीं किया जिन्होंने शिवाजी का साथ दिया था और उनके लिए अपनी जान दे दी.’

ओवैसी ने आगे कहा, ‘शिवाजी को इसलिए इतना सम्मान मिलता है क्योंकि उन्होंने कभी किसी किसानी की एक इंच जमीन पर भी कब्जा नहीं किया. अगर शिवाजी आज जिंदा होते तो पता नहीं वह उन लोगों के साथ क्या करते जो उनके नाम पर पैसे बर्बाद कर रहे हैं.’

इसी के साथ उन्होंने नववर्ष की संध्या पर प्रधानमंत्री के राष्ट्र के नाम संबोधन को लेकर कहा कि  पीएम ने सस्ती लोकप्रियता के लिए पुरानी योजनाओं का ही सहारा लिया है.  ‘प्रधानमंत्री ने कहा कि अब 6000 रुपये गर्भवती महिलाओं को दिए जाएंगे। लेकिन संसद ने 2013 में ही खाद्य सुरक्षा बिल पास कर दिया था. इस बिल के सेक्सन 4 (बी) में कहा गया है कि गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपये मिलेंगे’.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles