मुरादाबाद। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी सोमवार को मुरादाबाद में आयोजित रोजा इफ्तार पार्टी में पहुंचे। पिछले कई दिनों से ओवैसी की ये पार्टी सत्ता के गलियारों में चर्चा का विषय बनी हुई है। मुस्लिम समाज से जुड़े लोगो की भारी भीड़ ओवैसी की एक झलक पाने के बेक़रार दिखी। स्थानीय लोगो का कहना है की किसी मुस्लिम नेता के लिए इतनी भीड़ जुटना सामान्य बात नही है। भीड़ इतनी अधिक थी की खुद ओवैसी भी उसमे घिरकर असहज हो गए।

राजनीती दिग्गजों का कहना है की मुरादाबाद के लोगो का मजमा देखकर लखनऊ में हड़कम्प मचा हुआ है। सपा तथा बसपा जिन्होंने अभी तक मुस्लिम वोट बैंक का समर्थन लेकर अपनी अपनी सरकार कायम की है दोनों ही पार्टियों के हाथ पाँव फुले हुए है। मुस्लिम समाज से जुड़े लोगो का कहना है की सपा तथा बसपा दोनों ही पार्टियों ने उन्हें मात्र वोट बैंक के लिए इस्तेमाल किया, इस बार का यूपी चुनाव ऐतिहासिक होगा।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

देखें वीडियो

अहम हैं मुस्लिम वोटर

यहां बता दें की पत्रिका ने कई दिनों पहले ही अपनी खबरों में खुलासा किया था की एआईएमआईएम प्रमुख ओवैसी रोजा इफ्तार पार्टी में शिरकत करेंगे। ओवैसी की पार्टी से सपा और बसपा की धड़कनें तेज हो गई हैं। रमजान महीने में सभी सियासी दल इफ्तार पार्टियों के बहाने अपनी नुमाइंदगी दर्शाती हैं, लेकिन वेस्ट यूपी में मुस्लिम वोटरों की निर्णायक भूमिका को ओवेसी ने खूब पहचाना। उन्होंने चुनाव से पहले इस इलाके में अपनी जमीन तलाशनी शुरू कर दी है। इसी कड़ी में सोमवार को ओवैसी ने मुरादाबाद में इफ्तार पार्टी में शिरकत की।

चिंता में सपा—बसपा

ओवैसी सिर्फ मुरादाबाद तक ही नहीं रहेंगे। वह मंगलवार को मुरादाबाद में प्रेसकंफ्रेंस करने के बाद बिजनौर का भी दौरा करेंगे। सपा खेमा ओवैसी की बढ़ती गतिविधियों से खासा चिंतित है। काबिना मंत्री आजम खान खुले शब्दों में कह चुके हैं कि चुनाव आ रहे हैं इसलिए यूपी के मुसलमानों को बहकाने के लिए कुछ लोग आ रहे हैं।