यूपी निर्वाचन आयोग ने यूपी के निकाय चुनाव को ईवीएम की जगह पर बैलेट पेपर से कराए जाने का फैसला किया हैं. इस बात का खुलासा राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा केंद्रीय चुनाव आयोग को लिखी चिट्ठी में हुआ हैं.

चिठ्ठी में कहा गया उसके पास 2006 से पुरानी ईवीएम हैं और उनसे चुनाव नहीं कराए जा सकते हैं. आयोग ने इन पुराने ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से वोटिंग कराने को बेहतर बताया. ऐसे में संभावना है कि यूपी में जुलाई के महीने में होने वाले निगर निकाय चुनाव बैलट पेपर से कराए जा सकते हैं.

दसअसल, फिलहाल आयोग के पास 2006 से पुरानी ईवीएम हैं. वहीँ 2006 तक की ईवीएम का उपयोग केंद्रीय निर्वाचन आयोग बंद कर चुका है, इसलिए इससे चुनाव कराने का औचित्य नहीं दिख रहा हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस बीच अरविंद केजरीवाल ने यूपी के निर्वाचन आयोग के फैसले का स्वागत करते हुए ट्वीट किया हैं कि दिल्ली राज्य निर्वाचन आयोग दिखाए कि उसके पास भी ऐसी ही रीढ की हड्डी है.

Loading...