vas

भोपाल में भाजपा नेता सुशील वासवानी के यहाँ आयकर विभाग की कारवाई लगातार तीसरे दिन भी जारी रही. इस दौरान वासवानी के नोटबंदी के बाद  100 से अधिक बैंक खातों के खुलवाए जाने का खुलासा हुआ हैं. इन खातों में करोड़ो की राशि जमा की गई हैं.

आयकर अधिकारीयों का कहना हैं कि वासवानी ने बैंक के जरिए 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटो को बदला हैं. इसमें उसने अपने सहकारी बैंकों का सहारा लिया. वासवानी के घर और ऑफिस पर मंगलवार की सुबह आयकर विभाग ने कारवाई शुरू की थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

आयकर विभाग की दबिश में वासवानी के भाजपा व संघ के कई नेताओं से करीबी रिश्ते होने का खुलासा होने के साथ दो होटल, कई मकान, भूखंड आदि का पता चला है. वहीं, बैंक लॉकर से सोने व चांदी के जेवरात भी बड़ी मात्रा में मिले हैं.

वासवानी राज्य आवास संघ के अध्यक्ष रह चुके हैं. सुशील वासवानी महानगर सहकारिता बैंक के चेयरमैन भी हैं.  सुशील वासवानी भाजपा के बड़े नेता बताए जाते हैं. उनकी बहू संगीता भाजपा की पार्षद भी हैं साथ ही सहकारी बैंक की डायरेक्टर भी हैं.

Loading...