shadi

1 जनवरी 2019 से शुरू होने वाले कुंभ को लेकर योगी सरकार ने शादियों पर रोक लगा दी है। यूपी सरकार ने एक आदेश जारी करते हुए अगले साल जनवरी, फरवरी और मार्च में होने वाले कुंभ मेले के प्रमुख स्नानों के दौरान एक दिन पहले और एक दिन बाद में शादियों पर पाबंदी लगा दी है। इस आदेश की कॉपी सभी मैरेज हॉल में भेज दी गई है।

इस तीर्थ यात्रा के दौरान पांच मुख्य ‘स्नान’, पवित्र स्नान होंगे, दो स्नान जनवरी में होंगे। पहला स्नान मकर संक्रांति और दूसरा स्नान पौष पूर्णिमा ‘स्नान’ है। इसके बाद फरवरी में मौनी अमावस्या, बसंत पंचमी और माघी पूर्णिमा ‘स्नान’ और मार्च में महाशिवरात्रि का स्नान होगा। प्रयागराज में 2019 के कुंभ मेले के पांच प्रमुख स्नान पर्वों के दिन के आसपास न तो कोई सात फेरे लेगा और नहीं कोई निकाह पढ़ाया जाएगा।

ऐसे में सरकार के नये फरमान से शादियों के बिजनेस से जुड़े लोगों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सजावट, फूल, कैटरिंग आदि का काम करने वालों के लिए यही सीजन कमाई का होता है, लेकिन योगी के नये फरमान के बाद नई कमाई तो दूर अब उन्हें अग्रिम बुकिंग के लिए पैसे भी लोटाने की नौबत आ गई है। हजारों छोट-मोटे लोग तो कमाई के लिए पूरी तरह से शादियों के इस सीजन पर ही निर्भर रहते हैं।

जनवरी फरवरी में अधिक लगन

ज्योतिर्विद आचार्य अविनाश राय बताते हैं कि 14 जनवरी की रात सूर्य के उत्तरायण होने के बाद विवाह का मुहूर्त शुरू हो जाएगा। जनवरी में 17, 18, 22, 23, 24 25, 26, 27, 28, 29, 30 तारीख को लगन हैं। जबकि फरवरी माह में एक, दो, पांच, छह, सात, आठ, नौ, 10, 13, 15, 16, 19, 20, 21, 22, 23, 24, 25, 27, 28 को लगन हैं।

डीएम ने दिए आदेश

जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने कहा, स्नान पर्वों पर भीड़ अधिक होगी। ऐसे में पुलिस ने भीड़भाड़ वाली होर्डिंग एरिया (मैदान व गेस्ट हाउस) चिह्नित किया है। जहां स्नान पर्वों के आस-पास कोई कार्यक्रम न कराने का निर्णय हुआ है। जिन क्षेत्रों में भीड़ नहीं होती वहां कार्यक्रम किया जा सकता है।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें