पंजाब में ‘धार्मिक ग्रंथों’ का अपमान का सिलसिला नहीं रुक रहा हैं. पिछले एक साल से लगातार धार्मिक ग्रंथों का अपमान कर सांप्रदायिक तनाव फैलाने की कोशिश की जाती रही हैं.

अब जालंधर शहर के बस्ती शेख इलाके से गुजरने वाली नहर में आज सुबह लोगों ने एक धार्मिक ग्रंथ के फटे पन्ने देखे इसके बाद सैंकडों की संख्या में लोग वहां उपस्थित हो गए और सरकार विरोधी नारेबाजी करने लगे. हालांकि इस धर्म के संगठन के कुछ लोग नहर में उतर कर धार्मिक ग्रंथ के फटे पन्नों को आदर सहित वहां से निकाल लिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस दौरान शहर के कपूरथला चौक इलाके में संगठन के कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए हैं और पाठ शुरू कर दिया है.
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि ऐसी आशंका है कि बडी संख्या में दूसरे जिलों से भी इस धरना प्रदर्शन में हिस्सा लेने के लिए आ सकती है, इसलिए सभी प्रवेश द्वारा पर नाकेबंदी कर दी गयी है.

उन्होंने यह भी बताया कि धरना प्रदर्शन कर रहे संगठन के एक नेता ने कहा है कि सब कुछ शांतिपूर्वक होगा और पुलिस को उन लोगों को पकडना चाहिए जिन्होंने इस बेअदबी की घटना को अंजाम दिया है.