पढ़ेगा इंडिया बढ़ेगा इंडिया के तहत बीजेपी नेत्ताओं को स्कूलों में दाखिला दिलाए जाने की जरुरत है. दरअसल आज के नेताओं को अपने ओहदे तक के बारें में भी जानकारी नहीं है. और वे आज देश चला रहे है.

ताजा मामला मध्यप्रदेश का है. जहाँ बच्चों को पढ़ाने के लिए स्कूल पहुंचे शिवराज केबिनेरट के मंत्री एमएलए तक की फुलफार्म नहीं बता पाए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल, शनिवार को बांचे कार्यक्रम में पूरे प्रदेश के मंत्री और अफसर स्कूलों में बच्चों को पढाने के लिए पहुंचे थे. इसी क्रम में प्रदेश के उद्यानिकी राज्यमंत्री सूर्यप्रकाश मीणा ने विदिशा के करैयाहाट गांव के स्कूल बच्चों को पढ़ाया.

जब मंत्री सूर्य प्रकाश मीणा ने बच्चों की क्लास ली, इस दौरान मीडिया वालों ने उनसे एमएलए की फुलफार्म पूछ डाली. जिसे भी वे सही तरीके से नहीं बता पाए.

सूर्यप्रकाश मीणा ने एमएलए को फुलफार्म बताया, मेंबर आॅफ लेजिस्टिक आॅफ एडमिनिस्ट्रेशन, जबकि सही फुलफॉर्म- मेंबर आॅफ लेजिस्लेटिव असेंबली होता है.

अब ऐसे में सवाल उठता है कि जब देश चलाने वालों का ये हाला है तो देश के भविष्य का अंदाजा खुद-ब-खुद ही लगाया जा सकता है.

Loading...