हाल ही में एक साथ तीन तलाक देने की प्रथा को सुप्रीम कोर्ट द्वारा असंवेधानिक ठहरा दिया गया. जिसके बाद मीडिया में गुजरात के सूरत में मुस्लिम महिलाओं द्वारा जश्न मनाने की खबर छाई रही. लेकिन इस सबंध में बड़ा खुलासा हुआ है.

स्थानीय महिलाओं ने कहा कि उन्हें बीजेपी नेताओं ने बेवकूफ बनाया है. दरअसल स्थानीय बीजेपी नेता ने सभी महिलाओं को हर माह 1500 रूपये देने और गैस-चूल्हा देने के नाम पर मंदिर में एकत्रित किया.

इस दौरान मुस्लिम महिलाओं में मिठाई बांटी गई फिर फटाके फोड़ने के लिए कहा गया. लेकिन अगले दिन जब अख़बारों में मुस्लिम महिलाओ के तीन तलाक पर जश्न के शीर्षक से खबर देखी तो महिलाओं को बीजेपी की कारस्तानी के एह्साह हुआ.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ममहिलाओं ने इस पूरी धोखाधडी के लिए भाजपा कार्यकर्ता हमीदा मिर्जा को जिम्मेदार ठहराया. जिसके कहने पर वे एकत्रित हुई थी. इसके अलावा बीजेपी नेता जिगीष जगे और विनोद जैन भी शामिल था.

इस मामले में महिला सुरक्षा संगठन की प्रमुख रुबिया मुल्तानी ने कहा कि जिला कलेक्टर से शिकायत की जायेगी. ये पूरा धोखाधड़ी का मामला है.

Loading...