up 2018012008114024 650x

यूपी पुलिस का एक बार फिर से शर्मनाक चेहरा सामने आया है. सहारनपुर में दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल दो युवकों को पुलिस ने अस्पताल पहुंचाना इसलिए जरुरी नहीं समझा कि कहीं उनके खून से पुलिस वैन गंदी न हो जाए.

डायल 100 सेवा पर तैनात पुलिसकर्मियों ने दोनों घायलों को अपनी गाड़ी में अस्पताल पहुंचाने से इंकार कर दिया जिसकी वजह से इन दोनों युवकों की मौत हो गई. जानकारी के अनुसार, हादसा  बृहस्पतिवार की रात करीब साढ़े 12 बजे हुआ था.

मरने वाले अमित खुराना (17 वर्ष) पुत्र राकेश खुराना निवासी नुमाइश कैंप और सन्नी गुप्ता (15 वर्ष) पुत्र प्रवीण गुप्ता निवासी सेतिया बिहार के थे. हादसे में गम्भीर रूप से घायल दोनों युवक सड़क पर तड़प रहे देखकर डायल 100 सेवा पर सूचित किया गया था.

मौके पर पहुंचे यूपी 100 के पुलिसकर्मियों ने गाड़ी गंदी हो जाएगी बोलकर दोनों को ले जाने से इन्कार कर दिया. जिसके बाद एक टेम्पो में उन्हें अस्पताल पंहुचाया गया, मगर तब तक बहुत देर हो चुकी थी. डॉक्टरों नें उन दोनों युवकों को मृत घोषित कर दिया.

इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल ही गया. स्थानीय एसपी ने इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए डायल 100 पर तैनात तीनों पुलिसकर्मियों हेड कांस्टेबल इन्द्रपाल सिह, कांस्टेबल पंकज कुमार और चालक मनोज कुमार को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया.