उत्तरी कर्नाटक के शहर बेल्लारी में अज़मते मुस्तफ़ा व सदाए इत्तेहाद सम्मेलन का आयोजित हुआ. इसमें उत्तर भारत के प्रमुख धर्मगुरू मौलाना तौक़ीर रज़ा खान मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की.

इस दौरान मौलाना तौक़ीर रज़ा खान ने कहा कि देश में कुछ सांप्रदायिक ताकतें हिंदू और मुसलमानों के बीच और मुसलमान के बीच भी धर्म व संप्रदाय के नाम पर विवाद पैदा कर राजनीतिक लाभ उठाना चाहती हैं. ऐसे में मुसलमानों को चाहिए कि आपस में एकजुट रहें और देशवासियों के साथ मधुर संबंध पैदा करें.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीँ सम्मेलन की अध्यक्षता कर रहे बेल्लारी शहर काजी मौलाना गुलाम गौस सिद्दीकी ने कहा कि आपस में मुसलमानों के बीच चाहे जितने भी मतभेद हैं, वे अपनी जगह है, लेकिन कलिमा के आधार पर हमें एक हो जाना चाहिए.

इसके अलावा नासिर अहमद ने कहा कि सांप्रदायिक लोगों के खिलाफ केवल मुसलमान ही नहीं बल्कि धर्मनिरपेक्ष हिंदू भी खड़े हैं.

Loading...