VHP for the temple is not in the mood to wait anymore: Togadia

लखनऊ  विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के नेता प्रवीण तोगड़िया ने राम मंदिर मुद्दे पर एक बड़ा बयान दिया है.  उन्‍होंने कहा कि केन्‍द्र में जब भाई की सरकार है तो राम मंदिर के लिए आंदोलन की क्या जरूरत है.

लखनऊ में शुक्रवार को आयोजित धर्म रक्षा निधि अर्पण कार्यक्रम में विहिप नेता ने कहा कि राम मंदिर मुद्दा हमारे लिए कोई सियासी मुद्दा नहीं है. जनता चुनाव में पार्टियों और सरकार का काम देखकर फैसला करती है. सरदार पटेल ने संसद से कानून बनवाकर सोमनाथ मंदिर बनवाया था.

प्रधानमंत्री मोदी भी पटेल के रास्ते पर चलें. मोदी सरकार को संसद का संयुक्त सत्र बुलाकर मंदिर निर्माण के लिए कानून लाएं. उन्‍होंने कहा कि केन्‍द्र में जब भाई की सरकार है तो राम मंदिर के लिए आंदोलन की क्या जरूरत है. उन्‍होंने कहा कि अपनी ही सरकार के खिलाफ कोई आंदोलन नहीं करता. तोगड़िया ने कहा कि जो लोग मंदिर का विरोध कर रहे हैं उनके विरोध के बावजूद भी राम मंदिर बनेगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इतना ही नहीं उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पाकिस्तान से दोस्ती की कोशिशों पर भी निशाना साधा. उन्‍होंने कहा कि देश के लोगों में पाकिस्तान के खिलाफ बहुत आक्रोश है.

राम मंदिर के लिए हिंदू अनवरत प्रतीक्षा नहीं कर सकते. उन्होंने कहा कि संसद द्वारा कानून बनाकर राम मंदिर का निर्माण किया जाना चाहिए.

विहिप नेता ने कहा कि देश के 100 करोड़ हिंदू सर्वोच्च न्यायालय के इस मामले में होने वाले फैसले की अनवरत प्रतीक्षा नहीं कर सकते.

तोगड़िया ने कहा कि यह ऐसा मुद्दा है जो करोड़ों हिंदुओं के दिल के बहुत करीब है. हम इस बात की प्रतीक्षा नहीं कर सकते कि शीर्ष अदालत कोई समय निकाले और मुद्दे पर सुनवाई करे.

उन्होंने कहा कि हिंदू बहुसंख्यकों की भावनाएं इस बात को सुनिश्चित करेंगी कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए संसद कानून बनाए.  साभार: न्यूज़ 18

Loading...