Tuesday, June 28, 2022

नीतीश के मंत्री मोदी की राह पर, मुस्लिम टोपी को पहनने से किया इंकार

- Advertisement -

बीते लोकसभा चुनाव से पहले सद्भावना कार्यक्रम के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक मौलाना के हाथों मुस्लिम टोपी को पहनने से इंकार कर दिया था। जिसके बाद देश भर में उनकी आलोचना हुई थी तो दूसरी और उनकी कट्टर हिन्दू के रूप में छवि भी मजबूत हुई थी।

ऐसा ही एक और नजारा बिहार के कटिहार में देखने को मिला है। जहां सियासी व तालीमी बेदारी कॉन्फ्रेंस में शामिल होने मंत्री बिजेंद्र यादव, विधान परिषद के उपसभापति हारून रशीद, एमएलसी खालिद अनवर समेत कई नेता पहुंचे थे। यहां मंच पर स्वागत के दौरान सभी मुख्य अतिथियों को सम्मान स्वरूप टोपी पहनाई गई. हालांकि मंत्री बिजेंद्र यादव ने टोपी पहनने से इनकार कर दिया।

जानकारी के अनुसार, स्वागत कर रहे शख्स ने जैसे ही उन्हें टोपी पहनाने की कोशिश की, मंत्री ने उन्हें बीच में रोक दिया और टोपी उनसे लेकर पीछे खड़े लोगों को दे दिया। हालांकि वहां मौजूद बाकी नेताओं ने बड़े अदब और सम्मान के साथ टोपी पहनी।

यादव के इस कदम की आलोचना होना भी  शुरू हो गई। जनचेतना मंच के अध्यक्ष मोहम्मद सलाउद्दीन ने कहा कि जदयू अब भाजपा के एजेंडे पर काम कर रही है, इसलिए पहले तो मंत्री जी ने मजार पर जाने से मना किया और फिर सार्वजनिक मंच पर अल्पसंख्यको की आस्था से जुड़ी टोपी पहनने से इनकार कर दिया।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles