nia

nia

उत्तरप्रदेश के मुजफ्फरनगर का सर्राफा बाजार इन दिनों नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) के रडार पर है. मामला कथित रूप से आतंकी गतिविधियों के लिए सोने की तस्करी और हवाला से जुड़ा बताया जा रहा है.

एनआईए और एटीएफ के अधिकारियों की टीम ने शनिवार सुबह से ही भगत सिंह रोड पर सर्राफ आदिश जैन की दुकान अरिहंत ज्वैलर्स पर छापेमारी की. साथ ही सराफ अंकित गर्ग की दुकान पर छापे की कार्रवाई की गई. एनआईए की टीम ने दोनों दुकानों  के दस्तावेज जब्त कर दुकानों को सील कर दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा आदिश जैन के घर पर भी छापेमारी की गई. टीम ने अभियान के दौरान  32.84 लाख भारतीय मुद्रा, एक चाईना मेड पिस्टल मय कारतूस, कुछ मोबाइल नंबर, सऊदी अरब, कतर, कुवैत, यूएसए, जापान, थाईलैंड, ओमान की करेंसी, इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस, दो लैपटॉप और तीन मोबाइल बरामद किए.

इसके अलावा अंकित के घर से 15 लाख रुपये भारतीय मुद्रा, दो नोट गिनने की मशीन, एक इंडियन मेड पिस्टल मय कारतूस, एक लैपटॉप, चार मोबाइल और दस्तावेज बरामद किए. ध्यान रहे एनआईए और एटीएस की टीमें मुख्यत: आतंकी गतिविधियों के मामलों की छानबीन करती है.

एसपी सिटी ओमवीर सिंह का कहना है कि एनआईए को किसी मामले में कोई इनपुट मिला है. इसी इनपुट के तहत ये छापे की कार्रवाई की जा रही है. एनआईए के अधिकारियों ने केवल पुलिस बल मुहैया कराने की बात कही थी, जो उपलब्ध करा दिया गया है.

एनआईए और एटीएस अफसरों की टीमों ने छापे की कार्रवाई के दौरान सराफ आदिश जैन और अंकित गर्ग के परिजनों को उनके ही घरों में नजरबंद किया हुआ है.

Loading...