बीजेपी शासित राज्यों में पत्रकारों का दमन जारी है। ताजा मामला हरियाणा से जुड़ा है। जहां हिसार के एक टीवी पत्रकार अनूप कुंडू के खिलाफ मानहानि और अवैध घुसपैठ का मामला दर्ज किया गया है।

दरअसल, पत्रकार ने करीब दो महीने पहले उकलाना शहर के सरकारी गोदाम में अनाज सड़ने के संबंध में खबर दिखाई की थी। एफआईआर में कहा गया है कि पत्रकार अनूप कुंडू ने विभाग को बदनाम करने के लिए अपने चैनल पर फर्जी वीडियो चलाया।

रिपोर्ट के अनुसार, अनूप कुंडू को उकलाना के खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के गोदाम में पानी की वजह से गेहूं खराब होने की सूचना मिली थी। अनूप ने बीते 17 जुलाई को गोदाम के सुरक्षाकर्मी से बात कर घटना की वीडियो रिपोर्ट की थी।

up police inhuman face disclose

उन्होंने इस संबंध में फूड सप्लाई इंस्पेक्टर रामफल से भी बात की लेकिन आरोप है कि इंस्पेक्टर ने कोई जवाब देने के बजाय उन्हें धमकाया था। इसके बाद पत्रकारों ने अपने खिलाफ साथी पत्रकार के खिलाफ दर्ज मामले को खारिज कराने के लिए जिला प्रशासन के विभिन्न अधिकारियों से मुलाकात की।

हिसार के डीएसपी (मुख्यालय) अशोक कुमार ने कहा कि पत्रकारों ने अपने साथी पत्रकार अनूप कुंडू के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने के खिलाफ चिंता व्यक्त की है। इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘मैंने पत्रकारों को आश्वसान दिया है कि इस मामले में कोई अन्याय नहीं किया जाएगा। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि इस मामले की पूरी तरह से जांच हो।’

वहीं अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने कहा कि पत्रकारों की मांग को संबंधित अधिकारी को भेजकर दोबारा निष्पक्ष जांच करवाई जाएगी।  उन्होंने खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के उस आरोप को भी नकारा जिसमें कहा गया है कि अनूप कुंडू अवैध रूप से परिसर में घुसे हैं। उत्तम सिंह ने कहा कि इस तरीके की धाराएं सार्वजनिक संपत्ति पर नहीं बल्कि निजी संपत्ति पर लागू होती हैं।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन