Saturday, June 12, 2021

 

 

 

कड़ाके की ठंड से जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त अलाव सेकते नजर आए लोग

- Advertisement -
- Advertisement -

कैसरगंज/बहराइच: घने कोहरे के बीच कड़ाके की ठंड से जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। बीते एक सप्ताह से सूरज क़ी लुकाछिपी के साथ दिनभर बदली छाई रही, जिसके कारण ठंड में और इजाफा हो गया है। इसके चलते दिनभर सड़कों,और मार्केट में सन्नाटा पसरा रहा। जिन्हें बहुत जरूरी काम था वे ही घरों से निकले।

पिछले दो दिनों से फिर कड़ाके की ठंड पड़ने लगी है। सुबह घना कोहरा छाया रहा। ऐसे में लोग घरों में ही दुबके रहे। कोहरा सुबह 11 बजे तक बना रहा। आसमान में बादल छाये रहे। दिनभर धूप नहीं निकली। लोगों ने लिया अलाव का सहारा इस बीच सर्द हवाएं भी चलती रही। इसके कारण ठंड और बढ़ गई। इसका असर बैंकों में भी देखने को मिला। मार्केट में पहुंचे दुकानदारों ने हीटर जलाकर खुद को गर्म रखने में जुटे रहे तो बाजारों में भी सन्नाटा बना रहा। शाम होते ही एक बार फिर घना कोहरा छा गया, जिसके कारण लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। शाम होते-होते सड़कों पर सन्नाटा पसर गया।

वजीरगंज, फखरपुर, गजाधरपुर, मे यात्रियों को खुले आसमान के नीचे बस और प्राइवेट टैक्सी ऑटो रिक्शा का इंतजार करने के लिए मजबूर दिखे। गजाधरपुर,परसेंडी चौराहा, रुकना पुर वजीरगंज नंदवल बाजार सहित अन्य चौराहों पर अभी तक प्रशासन द्वारा अलाव जलाने के लिए कोई व्यवस्था नही क़ी गई हैं। दुकानदार अपने दुकानो से निकलने वाले अखबार व गत्तो क़ो जलाकर हाथ गर्मकर किसी तरह ठंड से बचने क़ी कोशिश कर रहे हैं।

शरीर मे खून जमा देने वाली ठंडक से लोग बे हाल नज़र आये।इस कड़ाके की ठंडक से बचने के लिए ग्राम प्रधान रसूलपुर दरेहटा मनफूल खान ने वजीरगंज चौराहे पर ढंड से कांप रहे लोगों को देख जलवाया अलाव जिसे लोगों ने ठंड से बचने के लिये अलाव सेकते नजर आये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles