faisal
फैसल पी उर्फ अनील कुमार पुत्र अनंतम नायर

बीते दिनों केरल के मल्लापुरम ज़िले में 32-वर्षीय फ़ैसल उर्फ अनील कुमार नाम के शख्स की इस्लाम धर्म अपनाने को लेकर धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी. पुलिस ने एक सप्ताह बाद राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के आठ कार्यकर्ताओं को इस मामलें में गिरफ्तार किया.

फैसल पी उर्फ अनील कुमार पुत्र अनंतम नायर ने लगभग आठ महीने पहले रियाद में इस्लाम धर्म अपनाया था. हाल ही में दो महीने पहले अगस्त में छुट्टी पर घर आने के बाद, उसने अपनी पत्नी और तीन बच्चों का भी धर्म परिवर्तन कराया था. जिसके बाद से उसे लगातार धमकियां मिल रही थी. इसके साथ ही वह अपनी माँ का भी धर्म परिवर्तन कर इस्लाम धर्म का हिस्सा बनाना चाहता था.

फैसल की हत्या के बाद में उनकी माँ मनिक्षा ने भी इस्लाम धर्म अपना लिया, उन्होंने अपना नाम मिनाक्षी से बदल कर जमीला रखा.

rfik
रफ़ीक़ चार साल पहले तक महेश थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

केरल में इस्लाम धर्म में परिवर्तन आम बात हैं. लेकिन कट्टरपंथी हिन्दू संगठनों का दावा हैं कि धर्म परिवर्तन के लिए हिंदुओं को मजबूर किया जाता हैं. ऐसे में कर्नाटक के निवासी रफ़ीक़ जो कि चार साल पहले तक महेश थे. उन्होंने कानूनी तरीके से इस्लाम धर्म कुबूल किया.

इस्लाम धर्म कबूल करने की वजह बताते हुए रफ़ीक़ कहते हैं, “मैंने क़ुरान और दूसरी इस्लामिक पुस्तकों को गहराई से पढ़ा. मुझे यक़ीन हो गया कि अल्लाह एक है जिसने हम सब को बनाया. मैंने सच का रास्ता अपना लिया.” वे अब इस्लाम धर्म की शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं.

रफीक की शिक्षा पूरी होने में आई हैं. वे अब चाहते हैं कि उनके माता-पिता भी उनकी तरह इस्लाम धर्म अपनाए. इसके लिए वे उन्हें इस्लाम धर्म के बारे में बता रहे हैं. उन्हें विशवास हैं कि उनके माता-पिता भी इस्लाम धर्म अपनाएंगे. रफीक कहते हैं कि “मेरे परिवार ने अब तक इस्लाम नहीं कुबूल किया है लेकिन मैंने अपने माता-पिता को इस्लाम के बारे में बताया है. इंशाल्लाह वो भी इस्लाम को अपनाएंगे.”

Loading...