पश्चिम बंगाल के बच्चों की खरीद-फरोक्त और तस्करी मामले के तार अब बीजेपी महासचिव कैलाश विजय वर्गीय और बीजेपी संसद रूपा गांगुली से जुड़ रहे हैं. इस मामलें में गिरफ्तार आरोपी चंदना चक्रवर्ती ने बच्चों को बेचने की प्रक्रिया में बीजेपी नेता रूपा गांगुली, कैलाश विजयवर्गीय और जूही चौधरी का नाम लिया है.

सिलीगुड़ी में सीआइडी द्वारा पूछताछ किए जाने के बाद चंदना ने कहा कि वह तो निर्दोष है. इस मामले में भाजपा नेत्री रूपा गांगुली और केंद्रीय नेता कैलाश विजय वर्गीय व जूही चौधरी शामिल हैं. पुलिस को सबसे पहले इन नेताओं को गिरफ्तार करना चाहिए.

बीजेपी महासचिव कैलाश विजय वर्गीय और बीजेपी संसद रूपा गांगुली का नाम सामने आने के बाद जलपाईगुड़ी में युवा तृणमूल कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन करते हुए दोनों का पुतला फूंका. साथ ही बीजेपी नेताओं की गिरफ्तारी की मांग भी की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इन आरोपों को निराधार बताते हुए भाजपा सांसद रूपा गांगुली ने कहा कि वह पागल है, कुछ भी बोल रही है. साथ ही उन्होंने सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर मामले में फंसाने का आरोप लगाया. रूपा गांगुली ने आरोप लगाते हुए कहा कि उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है और साजिश के तहत चंदना चक्रवर्ती को यह बयान देने को कहा गया है.

Loading...