duc iakucaa55oq

बुलंदशहर: बुलंदशहर हिंसा मामले में जांच कर रही यूपी पुलिस की एक के बाद एक लापरवाही सामने आ रही है। गौकशी के मामले में बेगुनाहों पर FIR करने का आरोप झेल रही यूपी पुलिस ने अब फरार 18 आरोपियों की तस्वीर में एक निर्दोष की भी तस्वीर जारी कर दी।

जानकारी के अनुसार, विशाल त्यागी नाम के एक शख्स ने यह दावा किया है कि भगोड़े घोषित किए गए आरोपियों की सूची में उसकी तस्वीर गलती से प्रकाशित कर दी गई है। उसने कहा, ‘पुलिस ने गलती से मुझे आरोपी समझकर मेरी फोटो प्रकाशित कर दी। मेरा इस घटना से कोई लेना देना नहीं है। मैं घटनास्थल से 40 किलोमीटर दूर रहता हूं।’

Loading...

इस पूरे मामले पर एसपी अतुल कुमार ने कहा, ‘यह मामला हमारे प्रकाश में आया है कि एक फोटो गलती से प्रकाशित हो गई है। हम मामले की जांच कर रहे हैं और तस्वीर हटा ली जाएगी।’

उल्लेखनीय है कि बुलंदशहर हिंसा मामले में पुलिस ने फरार आरोपियों की तस्वीर जारी की थी। साथ ही आरोपियों के ख़िलाफ़ कुर्की ज़ब्ती का आदेश भी दिया था। सभी फ़रार आरोपियों के घर कुर्की का नोटिस चिपकाया गया। इससे पहले पुलिस सभी आरोपियों के खिलाफ गैर-जमानती वॉरंट जारी कर चुकी है।

एसएसपी ने बताया था कि घटना के मुख्य आरोपी बताए गए योगेश राज और बीजेपी युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष समेत 76 आरोपियों के खिलाफ वॉरंट जारी किए गए हैं। गौरतलब है कि बुलंदशहर में हुई हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और एक स्थानीय युवक सुमित की मौत हो गई थी।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें