Sexual harassment case: godman's bail plea rejected

नाबालिग से दुष्कर्म के आरोप में हिन्दू धर्मगुरु आसाराम को दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा मिली है. बावजूद उसके भक्तों की भक्ति में कोई कमी नहीं आई है. अब भी वह जेल से ही फेसबुक पर लाइव प्रवचन दे रहा है.

दरअसल, आसाराम का एक ऑडियो वायरल हो रहा है. जिसमे वह जेल से आश्रम फोन कर लाइव प्रवचन दे रहा है. ऑडियो वायरल होने पर पुलिस ने उसे फौरन सोशल प्लेटफॉर्म से हटवाया.

वायरल ऑडियो में आसाराम ने अपने राजदार और शिल्पी और शरद को भी जेल से आजाद कराने का दावा किया. ध्यान रहे शिल्पी और शरद को भी आसाराम के हर जुर्म में साथ देने के लिए दोषी करार दिया गया है वे 20-20 साल की सजा काट रहे हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

The court reserved the order on the bail plea of Asaram

जोधपुर जेल के ADG भूपेंद्र सिंह ने कहा कि शुरुआती जांच में ही कुछ बातें सामने आई हैं. अगर फोन पर बातचीत की जगह भक्तों को संबोधित कर प्रवचन देने के मामले में आसाराम की संलिप्तता पाई गई तो आगे से फोन पर बात करने का उनका यह अधिकार छीन लिया जाएगा.

आसाराम का यह लाइव ऑडियो प्रवचन उसके फेसबुक पेज और मोबाइल एप ‘मंगलमय’ पर शेयर किया गया था. वायरल हुए इस ऑडियो प्रवचन में आसाराम को यह कहते सुना जा सकता है कि ‘यह पूरी केस ही साजिश है. पहले में बेटी शिल्पी को निकलवाऊंगा, फिर शरत को. उसके बाद हम तुम्हारे बीच आ जाएंगे.’

Loading...