महाराष्ट्र के नांदेड़ महानगर पालिका चुनाव में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिममेन (एआईएमआईएम) के लिए बहुत ही बुरी खबर है.

ओवैसी के नेतृत्व में चलने वाली एआईएमआईएम अपनी एक भी सीट नहीं बचा पाई है. एआईएमआईएम ने 2012 के नांदेड़ नगर निगम चुनाव में 11 सीटों पर जीत हासिल की थी. लेकिन इस बार अब तक वह किसी भी सीट पर बढ़त हासिल करने में नाकाम रही है. पार्टी 2012 में जीती सभी 11 सीटें गंवा सकती है. यहाँ तक कि खुद ओवेसी की पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष की मां जाकिया बेगम वार्ड 14 से चुनाव हार गई है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ताजा रुझानों के अनुसार, कांग्रेस ने  81 सीटों में से 45 से ज्यादा सीटों पर सीधा जीत हासिल कर ली है, जबकि भाजपा दो वार्डों में आगे है. वहीँ एक सीट पर शिवसेना बढ़त बनाए हुए हैं. 2012 में, कांग्रेस ने 41 वार्ड जीते थे. शिवसेना 12 सीटों के साथ दूसरे स्थान पर रही थी, इसके बाद एआईएमआईएम का स्थान था. जिसने 11 सीटों पर कामयाबी हासिल की थी. जबकि एनसीपी ने 10 सीटों पर जीत हासिल की थी, जबकि भाजपा सिर्फ दो सीटें जीत सकी थी.

आपको बता दे कि एआईएमआईएम ने मायावती की बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के साथ गठबंधन में नांदेड़ वाघाला नगर निगम चुनाव लड़ा है. नांदेड़ शहरी में दलित-मुस्लिम मतदाताओं की 45 प्रतिशत से अधिक आबादी है. लेकिन ये गठबंधन भी कोई क्माल्म नहीं दिखा पाया है.

Loading...