nag2

nag2

मुस्लिमो के तीसरे सबसे पवित्र शहर यरुशलम पर इजराइल के कब्ज़े के विरोध में मुस्लिम समाज द्वारा मोमिनपुरा फुटबॉल ग्राऊंड से एक शांति मोर्चा निकाला गया।

इसरायली प्रधान मंत्री के भारत दौरे का विरोध करते हुए मोर्चे में मौजूद उलमाए अहले सुन्नत ने कहा कि यरूशलम मुस्लिमो का तीसरा सबसे पवित्र शहर है इस पर अमेरिका और इजराइल की तानाशाही नही चलेगी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इजराइल द्वारा फिलिस्तीनी नागरिको पर अत्याचार के विरोध में शहर के विरोध के विभिन्न संघटनो ने एकजुट होकर मोर्चे में उपस्थिति दर्ज कराई और उपजिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। साथ ही तीन तलाक के मामले पर कानुन बनाये जाने का भी विरोध किया गया।

nag3

तीन तलाक के मुद्दे पर उलेमाओं ने कहा कि भारत एक सेक्युलर देश है जहाँ सभी धर्म के लोगो को अपने धर्म के कानून के मुताबिक चलने का अधिकार संविधान देता है, जो हमसे कोई छीन नही सकता।

गौरतलब है कि अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र का उलंग्घन करते हुए इजराइल में अपना दूतावास तेल अवीव से येरुशलम में परिवर्तित करने का ऐलान किया है, जिसके खिलाफ भारत समेत सैकड़ो देशो ने विरोध किया था। और पूरे विश्व में इसके खिलाफ मुस्लिम समाज द्वारा आंदोलन हो रहा है।

इस मौके पर यूनियन ऑफ़ मुस्लिम स्टूडेंट्स, मुनज़्ज़मा ए फ्लाहिया, असरा फाउंडेशन, ग्लोबल इस्लामिक ऑर्गनाइज़ेशन, नूरी महफ़िल, मोमिनपुरा रौशन कमिटी समेत शहर की विभिन्न संघठनो ने हिस्सा लिया।