Wednesday, June 16, 2021

 

 

 

मुसलमानों को एकजुट होना चाहिए: अकबरुद्दीन ओवैसी

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई: शनिवार को बीएमसी चुनाव के लिए चुनाव प्रचार का अंत हो गया हैं. शनिवार को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी मदनपुरा में एक रैली को संबोधित किया.

रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, मुसलमानों को यह बात नहीं भुलनी चाहिए कि कैसे निर्दोष बावजूद उन्हें झुठे मुकदमों में फंसाया जाता है. उन्होंने कहा,  “मुसलमानों एकजुट होकर आवाज उठाने में विफल रहे. इसी के साथ उन्होंने मुस्लिमों के पिछड़ेपन के लिए प्रमुख राजनीतिक दलों को दोषी ठहराया.

ओवैसी ने आगे कहा कि हम लोग यहां 15 पार्षदों को संभाल रहे हैं, वहां मातोश्री (उद्धव ठाकरे का आवास) और गुजरात का चाय वाले को सांप की तरह डंक लग रहा हैं. उन्होंने कहा कि देश दुनिया के अग्रणी गोमांस निर्यातकों में से एक होने के बावजूद भारत में लोगों को गोमांस का उपभोग करने की अनुमति नहीं दी गई. उन्हें गोमांस निर्यात पर प्रतिबंध लगाना चाहिए. लेकिन वे ऐसा नही करेंगे. क्योंकि वे ऐसा करते हैं तो इसे कई जैन और मारवाड़ी व्यापारी जो भाजपा से वित्त पोषित है प्रभावित होंगे.

अकबरुद्दीन ने कहा कि मुसलामानों को सड़कों पर लड़ने के बजाय संसद और विधानसभा में अधिक-से-अधिक अपने प्रतिनिधी भेजने चाहिए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ठाकरे की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि मैं अकेला व्यक्ति हूं जो उनसे नहीं डरता है. इसलिए वो हमें पसंद नहीं करते.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles