munge

munge

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा मुस्लिम महिलाओं के हितों का हवाला देकर लाए गए तीन तलाक बिल के विरोध में आज बिहार के मुंगेर में हजारों की तादात में मुस्लिम महिलाएं ‘मुस्लिम पर्सनल लॉ में छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं’ की तख्तियों के साथ सडको पर उतर आई.

तहफ़्फ़ुज़े शरीयत कमिटी की ओर से निकाले गए इस जुलुस में करीब 25 हजार महिलाओं ने हिस्सा लिया. मुफसिल थाना क्षेत्र एम डब्लू उच्च विद्यालय से निकाले गए जुलुस में मुस्लिम महिलाएं मोदी सरकार और बीजेपी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आई.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तीन तलाक बिल के विरोध में उतरी मुस्लिम महिलायें, बोलीं- अधिकारों का हनन मंजूर नहीं

जुलुस के कारण करीब चार घंटे तक शहर की यातायात व्यवस्था बाधित रही. इस दौरान सुरक्षा को लेकर भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती रही. जुलुस में शामिल महिलाओं ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ में किसी तरह की छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

जिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन में मुस्लिम महिलाओं ने कहा कि केंद्र सरकार मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से छेड़छाड़ कर रही है. सरकार को एक देश में दो कानून हजम नहीं हो रहा है. जुलुस में शामिल छात्रा हबीबा बुखारी ने कहा तीन तलाक बिल मुस्लिम महिलाओं के लिए जुल्म की तरह है इससे उनके अधिकारों का हनन होगा.