burka1

burka1

उत्तरपदेश पुलिस की और से मुस्लिम उत्पीड़न का मामला सामने आया है, जिसमे एक मुस्लिम महिला से जबरदस्ती बुरका उतरवा कर जब्त कर लिया गया.

मामला लिया जिले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली का है. जहाँ पुलिस ने चेकिंग के नाम पर सरेआम मुस्लिम महिला का सरेआम बुर्का उतरवा लिया गया. पुलिस की इस हरकत को मुस्लिम उलेमा ने गैर-कानूनी और महिला का अपमानजनक करार दिया है.

पीड़ित महिला की पहचान सायरा के रूप में हुई. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के मेंबर मौलाना खालिद राशिद फिरंगीमहली ने एनडीटीवी से कहा कि ‘पूरी दुनिया में चाहे कितना भी आजाद ख्याल मुल्क क्यों न हो, हर एयरपोर्ट पर महिलाओं की तलाशी एक कर्टने वाले इनक्लोजर के अंदर ही होती है. रैली की भीड़ में किसी महिला का बुर्का उतरवा कर छीन लेना गैर कानूनी है. इसके लिए पुलिस वालों को सजा मिलनी चाहिए.’

वहीं बीजेपी इस पूरे मामने में बचाव की मुद्रा में आ गई है. बीजेपी अल्पसंख्यक सेल की अध्यक्ष रूमाना सिद्दिकी का कहना है कि कि पार्टी की ऐसी सोच नहीं है. उन्होंने इसके लिए पुलिस वाले जिम्मेदार हैं. बलिया पुलिस कप्तान का कहना है कि वो इस पूरे मामले की जांच कराएंगे.

बलिया के पुलिस कप्तान अनिल कुमार ने पूछे जाने पर कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं थी. अगर उन्हें इसका वीडियो उपलब्ध करा दिया जाए तो वो इसकी जांच कराएंगे.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें