वरिष्ठ शिया मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद ने आज़म खान पर निशाना साधने ले लिए सपा में अमर सिंह की वापसी पर स्वागत करते हुवे कहा कि समाजवादी पार्टी में आने से कुछ लोगों की बेचैनी बढ़ी है, उन लोगों के चहरे से नक़ाब उठ गया है जो मुसलमानों के नाम पर पार्टी लीडरशिप को गुमराह किये हुए थे।

मुस्लिम धर्म गुरु मौलाना कल्बे जवाद ने दिल्ली के शाही इमाम बुखारी को आड़े हाथों लेते हुवे कहा कि इमाम अहमद बुखारी ने हमेशा मुसलमानों के वोटों का सौदा किया है। अब एक बार फिर चुनाव से पहले इमाम बुखारी लखनऊ के चक्कर लगा रहे हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मुस्लिम धर्म गुरु मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि इमाम बुखारी हर पार्टी के हाथों मुसलमानों को बेच चुके हैं, उन्होंने आज तक मुसलमाओं को उनका हक़ किसी भी पार्टी से नहीं दिलवाया है। अब मुसलमानों को सरकारों से उम्मीद छोड़ अपना हक़ मांगने के लिए सड़कों पर उतरना होगा। लेकिन 2017 में ऐसा नहीं होगा अभी भी समय है जो पार्टीया मुसलमनों का वोट चाहती हैं उनको मुसलमानों का हक़ देना ही होगा।

उन्होंने कहा कि मुसलमानों से आरक्षण के बावत किये गए वादे आज तक पूरे नहीं किये गए ना हीं बेगुनाह मुसलमानों के मुक़दमे खत्म किये गए उन्हें अदालत ने रिहा किया लेकिन सरकार ने उनके उठान या पुनर्वास की कोई वयवस्था नहीं की। मुस्लिम धर्म गुरु मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि सोयी हुई सरकारों को जगाने के लिए इसी महीने के अन्त में बीस लाख मुस्लमान लखनऊ में प्रदर्शन करेंगे ज़ुरूरत पड़ने पर गिरफ्तारियां भी दी जाएँगी।

Loading...