Saturday, May 21, 2022

बलात्कार में हुए नाकाम तो मुस्लिम टीचर को पीट-पीट कर मार डाला

- Advertisement -

rabia

उत्तरप्रदेश के प्रतापगढ़ में हैवानियत का मामला सामने आया है. निर्भयाकांड की तर्ज पर  दुष्कर्म का विरोध करने पर महिला टीचर के साथ बेदर्दी से मारपीट कर उसे मौत के घाट उतार दिया गया.

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट के अनुसार, मामला नगर कोतवाली के टेऊगा गांव का है. जहां मृतक महिला राबिया किराए के मकान में रहती थी. मृतका राबिया के पति उसको कई साल पहले तलाक दे चुका है. राबिया का सिर्फ एक बेटा है, जिसका नाम आरमान है. वह बाहर बस पर परिचालक का काम करता है. जबकि मृतक महिला राबिया एक निजी इंटर कॉलेज में दाई का काम किया करती थी. महिला तीन फरवरी की शाम को मकान में अकेली थी. इसी का फायदा उठा कर दबंग उसके घर पहुंचे और जोर-जबरदस्ती करने लगे. महिला ने विरोध किया तो उसकी बेरहमी से पिटाई की. जिससे वो गंभीर रूप से घायल हो गई. घायल अवस्था में राबिया को इलाहबाद इलाज के लिए भर्ती कराया. जहां उसकी मौत हो गई.

पुलिस के अनुसार ग्रामीणों ने गांव के दबंग गुड्डू पासी व मदन पासी को इसका जिम्मेदार ठहराया है, जिन्होंने अपने 4 साथियों के साथ सबीना को अपनी हवस का शिकार बनाना चाहा और नाकाम होने पर उसे मौत के घाट उतार दिया. ग्रामीणों ने बताया कि गुड्डू और मगन आए दिन गांव में छिछोरी हरकत करते थे। किसी की भी बहन बेटी का हाथ पकड़ लेना उनका रोज का काम था. कुछ दिन पहले ही ग्रामीणों ने इन दोनों की जमकर पिटाई की थी हालत गंभीर होने पर उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था. लेकिन पुलिस ने इन पर कार्रवाई नहीं की. जिसका नतीजा राबिया की मौत के रूप में सामने आया.

ग्रामीणों के अनुसार, राबिया का शरीर पूरी तरह से खून से लथपथ था. हाथ पैर-टूट कर कई जगह से झूल चुके थे. उसके  शरीर पर जगह जगह मांस फट गया था पैर कई जगह से टूट कर झूल चुका था. हर तरफ से खून का स्राव हो रहा था. आनन-फानन में पुलिस को सूचना दी गई और उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे इलाहाबाद रेफर किया गया. जहाँ इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया.

नाराज परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया है. परिजनों की मांग है कि जब तक सभी आरोपी गिरफ्तार, 20 लाख की आर्थिक मदद और महिला के बेटे को सरकारी नौकरी की मांग नहीं मानी जाती तब तक हम शव का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे. दो समुदाय से मामला जुड़ा होने के कारण इलाके में तनाव को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. सुबह से ही मृतका के भाई के घर लोगों का हुजूम उमड़ना शुरू हो गया है.

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles