shh

मथुरा स्थित सौंख क्षेत्र के गांव खुटिया के पुष्पेंद्र सिंह सोमवार को पाकिस्तानी की ओर से गोलीबारी में श्रीनगर के संगधार में एलओसी पर शहीद हो गए।उनके परिवार को भूमिहीन होने के कारण शव के अंतिम संस्कार के लिए भी जमीन नहीं मिली।

ऐसे में मुस्लिम किसान नजीम खान ने 50 वर्ग गज जमीन अंतिम संस्कार और फिर शहीद के स्मारक के लिए दान में दे दी। साथ ही बाकि 150 वर्गगज जमीन को प्रशासन ने 3.50 लाख रुपये में सौदा किया। नजीम द्वारा शहीद पुष्पेंद्र के लिए जमीन उपलब्ध कराने के बाद शहीद का अंतिम संस्कार हुआ।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि अभी सात माह पहले ही पुष्पेंद्र की पत्नी सुधा ने पुत्र को जन्म दिया है। पुत्र सिद्धार्थ को दुलार करके मई माह में ही पुष्पेंद्र सिंह ड्यूटी पर घर से गया थे। शहीद के आठ माह के पुत्र सिद्धार्थ ने अपने ताऊ बनवारी की गोद में रहते हुए पिता की चिता की परिक्रमा की। इसके बाद अबोध बालक ने पिता की चिता को मुखाग्नि दी।

बता दें कि देश की हिफाजत करते समय प्राणों की बाजी लगाने वाले पुष्पेंद्र सिंह के परिवार की माली हालत ठीक नहीं है। ऐसे में शहीद के परिवार को पूर्व प्रधान प्रीतम सिंह द्वारा एक लाख रुपये देने का भरोसा दिया है।

Loading...