firngi

firngi

शुक्रवार को होली होने की वजह से किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए ईदगाह ऐशबाग लखनऊ के इमाम और इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली तथा शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने जुम्मे की नमाज के वक्त में थोडा फेरबदल करने की बात कही है.

मौलाना खालिद राशिद फिरंगी महली ने कहा, ‘होली का पर्व इस बार शुक्रवार को पड़ रहा है… इसलिए मैं सभी मस्जिदों से आग्रह करता हूं कि वे शुक्रवार की नमाज का समय बदलते हुए उसे आगे बढ़ा दें. होली का जश्न दोपहर 12 बजे से 1 बजे के बीच सबसे ज्यादा जोरों पर होता है और इसी वक्त जुमे की नमाज अदा की जाती है.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने बताया कि ऐशबाग ईदगाह में पहले ही शुक्रवार की नमाज के समय को बदल दिया गया है. अब जुमे की नमाज 2 मार्च को दोपहर 12.45 बजे से 1.45 के बीच अदा की जाएगी. यानि कि हिन्दु भाइयों के होली का त्यौहार मनाने के बाद मुस्लिम समुदाय जुम्मे की नमाज एक घंटा देरी से अता करेंगे.

फिरंगी महली ने कहा, ‘हम समझ सकते हैं कि हमारे हिंदू भाइयों का यह पर्व साल में एक बार ही आता है. हम चाहते हैं कि हमारे हिंदू भाई अच्छे से होली खेलें और हम भी नमाज अदा कर सकें, इसलिए हमने समय बदलने का फैसला किया है. मैंने अभी तक जितने भी लोगों से बात की है, ज्यादातर लोग इससे सहमत हैं. हम सब चाहते हैं कि ऐसा करके हम समाज को अच्छा संदेश दे सकें.’

मौलाना खालिद ने यह भी बताया है कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि शुक्रवार की नमाज का वक्त बदला जा रहा है. इससे पहले आज तक ऐसा नहीं हुआ .

Loading...