ansa

ansa

देश की राजधानी दिल्ली में एक 17 वर्षीय मुस्लिम किशोर की चलती बस में चाकू घोंपकर हत्या कर दी जाती है. लेकिन यात्रियों से भरी इस बस में मृतक की कोई मदद नहीं करता. फिलहाल पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

घटना न्यू फ्रैंड्स कॉलोनी की है. मृतक की पहचान मोहम्मद अनस के रूप में हुई है. अनस मुरादाबाद यूपी का रहने वाला था. हत्या करने वाले सभी आरोपी नाबालिग है. पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है. ये सभी हत्या के बाद से फरार थे.

डीसीपी (साउथ-ईस्ट) रोमिल बानिया ने बताया, ‘चलती बस में युवक की हत्या करनेवाले 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। सारे आरोपी नाबालिग हैं और उनकी उम्र 12 से 15 साल तक है.  वे आश्रम चौक के पास बस में चढ़े थे और उन्होंने मृतक का मोबाइल छीनने की कोशिश की और जब उसने विरोध किया तो उन्होंने उनकी हत्या कर दी.

घटना के बारें में अनस के परिजनों का कहना है कि जिस समय इस वारदात को अंजाम दिया गया उस वक्त बस में काफी लोग मौजूद थे लेकिन किसी ने भी आगे आकर उसकी मदद नहीं की. अनस के पिता भोलू खान ने बताया कि अनस फरीदाबाद की अल-फलाह यूनिवर्सिटी से बीकॉम कर रहा था. शुक्रवार को उसे अपने पहले सेमेस्टर की आखिरी परीक्षा देने जाना था. खान ने कहा कि मैंने अपनी पत्नी से फोन कर अनस को 1,500 रुपए लेकर उसे आश्रम चौक भेजने के लिए कहा था क्योंकि मेरी गाड़ी वहां पर खराब हो गई थी.

बस कंडक्टर ने पुलिस को बताया, यह घटना दोपहर के करीब 3:40 की है. अनस बार-बार लड़कों से कह रहा था कि “मेरा मोबाइल दो, मेरा मोबाइल दो.” मोबाइल को लेकर उनके बीच मारपीट हो गई और उनमें से एक छात्र ने अनस की गर्दन पर चाकू से कई वार कर दिए. बस में और भी यात्री मौजूद थे, लेकिन किसी ने भी आगे आकर अनस की मदद नहीं की क्योंकि आरोपी उसपर हमला कर बस से तुरंत भाग गए थे.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें